Taj Mahal Essay in Hindi – हेलो दोस्तों! हमारे दुनिया में ऐसे सात अजूबा है जिनमें से ताजमहल भी आता है ताजमहल आगरा में स्थित है और यह हमारे भारत की शान और प्यार का प्रतीक है।

आगरा जो कि उत्तर प्रदेश में स्थित है ताजमहल बहुत हे आकर्षित और प्रसिद्ध बनावट है और यह एक ऐतिहासिक स्थान भी है जहां पर आज के समय लोग घूमने जाते हैं वहां के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं।

उत्तर प्रदेश बहुत ही बड़ा क्षेत्र है जिसमें आगरा में ताजमहल को बनाया गया था ताजमहल के पीछे की तरफ बहुत बड़ी नदी है। जो भी ताजमहल के पास जाता है उसे स्वर्ग जैसा महसूस होता है ताजमहल की बनावट सफेद रंगों के साथ प्रेम का प्रतीक मानी गई है।

Related:- Winter Season Essay in Hindi

ताजमहल को दुनिया के सात अजूबों के नाम से भी जाना जाता है। आज आपको इस Article में! मैं आपको ताजमहल के बारे में कुछ ऐसी मज़ेदार बातें बताऊंगा और ताजमहल बनाने के दौरान उन सभी कारीगरों का हाथ क्यों काटा गया यह भी बताऊंगा।

ताजमहल पर निबंध | Essay on Taj Mahal in Hindi (150 Words)

Taj Mahal Essay in Hindi

Taj Mahal हमारे दुनिया का सातवें अजूबा में से एक है भारत में जब भी आगरा का नाम जब भी सनी को आता है तब हमारे मन में ताजमहल का जिक्र जरूर होता है क्योंकि ताजमहल आगरा में स्थित है और यह बहुत ही सुंदर और आकर्षित देखने में लगता है।

ताजमहल को बनाने वाले शाहजहां थे उन्होंने बहुत ही खूबसूरती से इस इमारत को बनवाया था ताजमहल पूरी सफेद संगमरमर से बनी है जिसकी वजह से ताजमहल की चमक दूर दूर तक फैली हुई है।

ताजमहल के आसपास आपको किसी भी तरह का घर या फिर बिल्डिंग नहीं दिखाई देगा क्योंकि ताजमहल के आसपास सुंदर-सुंदर सजावटी पेड़ है पौधे हैं पशु है जिसकी वजह से ताजमहल की सुंदरता और भी अच्छी तरह से निखरे इसलिए इसके आसपास कुछ नहीं बनाया गया है।

Related:- Computer Essay in Hindi 

ताजमहल को यमुना नदी किनारे बनाया गया है ताकि इसकी सुंदरता और भी निखड़े ताजमहल प्यार का प्रतीक है प्यार का उदाहरण है जो आजकल सभी देते है। ताजमहल में शाहजहां की पत्नी मुमताज महल की कब्र है मुमताज की याद में ताजमहल को बनाया गया था।

ताजमहल पर निबंध | Essay on Taj Mahal in Hindi (250 Words)

ताजमहल शाहजहां द्वारा बनवाया गया सातवां अजूबा है जो आज के समय में एक खूबसूरत और अमूल्य इमारत है जो आगरा के किले के बिल्कुल पीछे बनाया गया है जहां से शाहजहां अपनी पत्नी को याद करने मैं ताजमहल को अच्छे से देख पाए।

आज के समय में ताजमहल एक Tourists Place बन गया है जहां पर लोग दुनिया के हर कोने से इस खूबसूरत इमारत को देखने के लिए आते हैं इसकी सुंदरता जाने के लिए आते हैं इसका इतिहास क्या था यह पढ़ने के लिए आते हैं।

ताजमहल को बनाने के लिए बहुत सारे कलाकारों और कारीगरो को लाया गया था इन लोगों को बहुत ही मेहनत करना पड़ा तब जाकर ताजमहल बना है और इतना सुंदर देखने मैं लगता है क्या आप जानते हैं ताजमहल को पूरा करने में 20 सालों का समय लगा है।

रात के समय ताजमहल बहुत ही सुंदर है इसकी सुंदरता बहुत ही अमूल्य है आगरा शहर में ताजमहल स्थित है जो कि उत्तर प्रदेश में यह दुनिया का सात अजूबों में से एक है और इस पूरे इमारत में सफेद संगमरमर लगी हुई है।

Related:- Dog Essay in Hindi 

शाहजहां अपनी पत्नी मुमताज महल से बेहद प्यार करते थे और यही एक वजह है ताजमहल को बनाने का क्योंकि उनकी पत्नी की मृत्यु के बाद वह उन्हें बहुत याद करते थे तब उन्होंने उनकी याद में एक खूबसूरत इमारत जिसे आज हम ताजमहल के नाम से जानते हैं उसे बनाया था।

ताजमहल आज के समय में एक अजूबा से कम नहीं है जिसे देखने के लिए लोग बहुत ही दूर से आते हैं हमारा भारत एक ऐतिहासिक रचना है जो कि बहुत अच्छे से बनाया गया है।

ताजमहल पर निबंध | Taj Mahal Essay in Hindi (500 Words)

प्रस्तावना

ताजमहल को बनाने वाले शाहजहां ने अपने पत्नी के याद में इसका निर्माण किया था इसीलिए ताजमहल को भारत में प्यार का प्रतीक भी माना जाता है इस ताजमहल को 1631 ई○ में बनवाया गया था और आज तक यह ताजमहल वैसा का वैसा ही है।

ताजमहल हमारे भारत में उत्तर प्रदेश के आगरा में स्थित है ताजमहल के पीछे यमुना नदी बहती है जिससे ताजमहल की सुंदरता और भी बढ़ जाती है इसकी गिनती दुनिया के सात अजूबों में से करी जाती है।

ताजमहल को शाहजहां के द्वारा अपनी पत्नी की याद में एक बहुत ही खूबसूरत मकबरा के रूप में बनाया गया था ताजमहल में शाहजहां की पत्नी मुमताज महल की कब्र रखी हुई है।

Also Check:- Essay on Holi in Hindi

ताजमहल को बहुत ही बारीकी से बनाया गया है ताकि इसमें थोड़ी सी भी कमी ना हो यह संगमरमर का इमारत दुनिया का सबसे खूबसूरत इमारत है जो पृथ्वी की अद्भुत प्रकृति की खूबसूरती में से एक है।

ताज महल के अंदर गूबंद के नीचे एकदम अंधेरे कच्छ में शाहजहां राजा और मुमताज महल रानी दोनों की कब रखी हुई है इसके आसपास दीवारों को कांच से बनाया गया है और उस पर कुछ कुरान की आयतों को लिखा गया है।

ताजमहल कब बना था

ताजमहल 17वी शताब्दी में बनाया गया था और इसे शाहजहां के द्वारा बनवाया गया था ताजमहल हमारे भारत का बहुत ही सुंदर और ऐतिहासिक बनावट है जिसे शाहजहां ने अपनी पत्नी मुमताज महल की याद में बनाया और मुमताज महल की कब्र को भी ताजमहल में रखा।

ताजा अपनी पत्नी से बेहद प्यार करता था और मुमताज महल शाहजहां की तीसरी पत्नी थी जब उसकी मृत्यु हुई तथा जा बहुत ही दुखी हो गया था और उसके पास बहुत ज्यादा धन और समय था जिसे खर्च उसने ताजमहल को बनाकर पूरा किया।

ताजमहल को बनाने के लिए बहुत सारे कारीगिरो को लाया गया था तब जाकर इतनी खूबसूरत ताजमहल को बनाया गया ताजमहल को बनाने के लिए 20 करोड़ भारतीय मुद्रा का उपयोग किया गया और ताजमहल को पूरा होने में 20 सालों का समय लग गया था।

ताजमहल किसने बनवाया था

ताजमहल को श्रेष्ठ हमारे पांचवे मुगल शासक शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज महल की याद में बनाया था शाहजहां ने हमारे भारत पर 1628 से 1658 तक अपना राज चलाया था शाहजहां की तीसरी पत्नी मुमताज महल थी।

भारत के इस अद्भुत निर्माण को मुमताज का मकबरा भी कहा जाता है क्योंकि शाहजहां ने अपनी पत्नी मुमताज की कब्र को ताज महल के अंदर रखवा दिया था ताकि शाहजहां का प्रेम कभी भी बड़े ना वह हमेशा जिंदा रहे।

Check this also:- Spring Season Essay in Hindi 

1632 मैं ताजमहल बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी इसको पूरा होने में काफी समय लग गया था। 1653 मैं जाकर इस महल को पूरा किया गया और क्या आपको पता है इस महल को पूरा करने में 320 Lakh रुपए लग चुके थे जिसकी कीमत 52.8 अरब रुपए है।

ताजमहल को क्यों बनवाया था

हमारे श्रेया पांचवें मुगल शासक शाहजहां जो अपनी पत्नी से बेहद प्रेम करते थे अपनी पत्नी के बिना उन्हें कहीं भी मन नहीं लगता था वैसे तो मुमताज महल उनकी तीसरी बेगम थी लेकिन मुमताज से शाहजहां बहुत ज्यादा प्रेम किया करते थे।

लेकिन मुमताज महल शाहजहां के साथ ज्यादा समय तक नहीं रह पाई थी उनकी मृत्यु हो गई थी तब राजा शाहजहां बहुत ज्यादा दुखी हो गए थे और तब उन्होंने यह निर्णय लिया भी उनकी पत्नी की याद में कुछ ऐसा निर्माण करेंगे जो दुनिया में किसी ने भी नहीं किया था।

तब जाकर ताजमहल को बनाया गया और जब ताजमहल को बनाया गया तब शाहजहां अपनी पत्नी की याद में आगरा के किले से हर रोज इस खूबसूरत महल को देखा करते थे और अपनी पत्नी को याद किया करते थे। 

2007 मैं यूनेस्को के द्वारा विश्व विरासत के दुनिया का सात अजूबों में ताजमहल को चुना गया ताजमहल आगरा किले से 2.5 किलोमीटर दूर पड़ता है। ताजमहल एक ऐसा इमारत है जो Indian, इस्लामिक, मुस्लिम, Parsi कला आदि के मिश्रण के द्वारा बहुत ही खूबसूरती से बनाया गया है।

ताजमहल पर निबंध | Taj Mahal Essay in Hindi (600 Words)

ताजमहल हमारे भारत की बहुत ही प्यारी और अमूल्य बनावट है जिसे शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज महल के लिए बनाया उनकी याद ने बनाया ताजमहल प्यार का प्रतीक है ताजमहल एक खूबसूरत प्रेम कहानी का प्रतीक है जो शाहजहां और मुमताज महल के बीच में था।

आगरा का यह खूबसूरत ताजमहल दुनिया का सातवां अजूबा बन चुका है और इस ताजमहल को देखने के लिए दुनिया के हर एक कोने से लोग आते हैं उसकी खूबसूरती इतना ज्यादा है की लोग दूर से ही इसे देखकर समझ जाते हैं कि यह ताजमहल की इमारत है।

इस पूरे इमारत में सफेद संगमरमर का इस्तेमाल किया गया है सफेद संगमरमर बहुत ही महंगा होता है और यह बहुत ही कम जगह पर मिलता है शाहजहां अपने समय में कहीं और से सफेद संगमरमर को लाया था और उससे इस ताजमहल को बनवाया था।

क्या आप जानते हैं?

ऐसा माना जाता है कि ताजमहल जैसी ही इमारत साझा खुद के लिए बनवाना चाहते थे और वह काले रंग के कब्र का निर्माण करना चाहते थे लेकिन ऐसा हो न सका काले रंग का कब्र बनने से पहले ही शाहजहां की मृत्यु हो गई।

इसके बाद शाहजहां की कब्र को मुमताज की कब्र के बगल में है हे दफन कर दिया गया था ताजमहल के अंदर बहुत ही सुरक्षा के साथ मुमताज महल और शाहजहां की कब्र को दफनाया गया है वहां पर जाने की इजाजत किसी को नहीं दी जाती है।

ताजमहल की बनावट

ताजमहल की बनावट बहुत ही सुंदर और आकर्षित है ताजमहल के आसपास बहुत खूबसूरत पेड़ पौधे लगाए गए हैं और यह आगरा यमुना नदी के किनारे स्थित है ताजमहल को बनाने के लिए कई सारे कारीगरों को लाया गया था और उनके विचारों के द्वारा ही इस सुंदर इमारत को बनाया गया था।

ताजमहल के सामने पुख्ता पगडंडी के द्वारा ऐसे कुछ पानी के फव्वारे भी बनाए गए क्योंकि देखने में बहुत ही आकर्षक लगते हैं और यह ताजमहल के कब्र के द्वार के सामने ही बनाए गए हैं और यह कब्र में प्रवेश रास्ते को भी बनाते हैं।

ताजमहल की अंदर सजावटी

उत्तर प्रदेश में आगरा के यमुना नदी के तट पर ताजमहल को बनाया गया है इस ताजमहल को बनाने के लिए सिर्फ सफेद संगमरमर का उपयोग किया गया है और चांदनी रात में इसकी खूबसूरती बहुत ज्यादा बढ़ जाती है।

पूर्णिमा की रात जैसे ही चंद्रमा चमकता है उसके चमक से ताजमहल की चमक और भी बढ़ जाती है और बहुत ही खूबसूरत दिखाई देती है ताजमहल के बाहर बहुत ही बड़ा ऊंचा सा दरवाजा है जिसे बुलंद दरवाजा के नाम से भी हम जानते हैं इस दरवाजे को लाल पत्थरों से बनाया गया है।

ताजमहल के अंदर की खूबसूरती बहुत ही अमूल्य है ऐसी खूबसूरती सामने से बहुत अच्छा देखने को मिलता है ताजमहल के अंदर ऐसे बहुत सारे दरवाजे बनाए गए हैं जिसमें मकबरा है गूबंद है छतरियां है कलस है मीनार और भी ऐसे कई सारे विभिन्न हिस्से हैं जो ताजमहल को दर्शाता है।

ताजमहल की ऐतिहासिक कथा | History of Taj Mahal in Hindi

ताजमहल को बनाने का सिर्फ एक ही उद्देश्य ताकि राजा अपनी पत्नी को हमेशा देख सके अपने प्यार को जिंदा रख सके ताजमहल को बनाने वाले मुगल सम्राट के राजा शाहजहां ने अपनी पत्नी की याद में इस कब्र को बनवाया था।

यह एक ऐतिहासिक रचना के रूप में भी जाना जाता है जो हमारे भारत के आगरा शहर में क्षेत्र ताजमहल को सिर्फ सफेद संगमरमर से बनाया गया है ताकि इसकी खूबसूरती बहुत ज्यादा हो।

Also Read:- Dhanteras Essay in Hindi 

शाहजहां ने अपनी पत्नी मुमताज महल से बेहद प्यार करते थे और ताजमहल को बनाकर उन्होंने प्रेम की एक अलग पहचान बना दी। ताजमहल को बनाने के लिए शाहजहां ने दुनिया के सबसे बेहतरीन कारीगरों को बुलाया था।

क्योंकि ताजमहल को बहुत ही सुंदर और अमूल्य बनाना चाहते थे तभी ताजमहल को पूरा होने में करीब 20 साल का समय लग गया था और ताजमहल के चारों ओर बहुत ही खूबसूरत मीनार है उन्हें बहुत ही खूबसूरत तरीके से बनाया गया है।

वह मीनारें आगे की और थोड़ी सी झुकी हुई है ताकि कभी भी भविष्य में भूकंप या फिर कोई ऐसी प्रकृति आपदा आई तब उस इमारत को कुछ ना हो वह इमारत सुरक्षित रह सके।

ताज महल के बारे में 10 लाइन | 10 Lines on Taj Mahal

  • ताजमहल को दुनिया का सातवां अजूबा के नाम से जाना जाता है।
  • दुनिया का सबसे महंगे संगमरमर से पूरे ताजमहल को बनाया गया था ताकि इसकी चमक और इसकी सुंदरता समय के साथ कम ना हो।
  • ताजमहल को बनवाने वाले मुगल शासक के बादशाह शाहजहां थे जिन्होंने अपनी पत्नी की याद में इस खूबसूरत कब्र को बनवाया था।
  • ताजमहल प्रेम का प्रतीक है आज भी लोग इसे सच्चे प्यार की निशानी कहते हैं।
  • ताजमहल को बनवाने के लिए शाहजहां ने दुनिया के बेहतरीन कारीगरों को बुलवाया था और इसकी शुरुआत 1631 ई○ में किया था।।
  • ताजमहल को 20 करोड़ भारतीय मुद्रा के द्वारा तैयार कराया गया था।
  • ताजमहल हमारे भारत की सबसे अच्छी और अमूल्य Tourism Place में से एक है।
  • पूर्णिमा की रात चंद्रमा के चमक के साथ ताजमहल भी बहुत ही खूबसूरत चमकता हुआ दिखाई देता है।
  • हर साल दुनिया के हर कोने से हजारों लोग ताजमहल को देखने के लिए आते हैं।
  • साल 1983 में यूनेस्को के द्वारा ताजमहल को विश्व की ऐतिहासिक धरोहरों में भी शामिल किया गया।

FAQ on Taj Mahal Essay in Hindi 

Q1. ताजमहल के बारे में आप क्या जानते हैं?

ताजमहल हमारे भारत का सबसे खूबसूरत बनावट है यह दुनिया के सात अजूबों में से आता है ताजमहल को बनाने वाले मुगल शासक के बादशाह शाहजहां थे जिन्होंने ताजमहल को अपनी पत्नी की याद में बनवाया था।

Q2. ताजमहल कौन से राज्य में है?

उत्तर प्रदेश

Q3. ताज महल में कितने रूम में?

ताजमहल को बनवाने में करीबन 30 साल का वक्त लगा और इतना समय में ताजमहल को बहुत ही अद्भुत बनाया गया है ताजमहल बाहर से कितना ऊंचा है धरती के अंदर से भी उतना ही कह रहा है कारीगरों ने इसके गहराई को भी काफी अच्छा बनाया है और बताया गया है कि इसके गहराई में करीबन 1000 गुप्त कमरे भी हैं।

Q4. ताजमहल बनाने वाले के हाथ क्यों काटे गए?

ताजमहल बनाने वाले कारीगरों के हाथ शाहजहां ने ही कांटे थे क्योंकि वह नहीं चाहते थे कि ताजमहल जैसा दोबारा कोई इमारत बने इसलिए उन्होंने अपने सारे कारीगरों के हाथ काट दिए थे जब, तब ताजमहल पूरा बन चुका था।

Conclusion

ताजमहल दुनिया का सातवां अजूबा मै से एक माना जाता है और इसकी खूबसूरती पूरी दुनिया में छाई हुई है ताजमहल की शुरुआत बहुत ही मुश्किल हुई थी क्योंकि ताजमहल मैं सिर्फ संगमरमर लगे हुए हैं और ताजमहल बहुत ही बड़ा है तो उसने संगमरमर मिलना मुश्किल था।

लेकिन शाहजहां की जिद थी उन्होंने फैसला लिया था कि ताजमहल अगर बनेगी तो सिर्फ संगमरमर से ही बनेगी उन्होंने दूसरे देशों से संगमरमर लाया और ताजमहल को पूरा बनाया ताजमहल स्नेह का प्रतीक है ताजमहल इतना खूबसूरत है कि दुनिया के हर कोने से लोग इसे देखने आते हैं।

ताजमहल पर निबंध (Taj Mahal Essay in Hindi) अलग-अलग शब्दों में आज मैंने आपको इस Article के द्वारा बताया। ताजमहल को बनाने के लिए पूरी दुनिया में से सबसे बेहतरीन कारीगरों को बुलाया गया था ताकि ताजमहल दुनिया का सबसे खूबसूरत इमारत बने।