Happy Diwali Essay in Hindi | दिवाली पर निबंध हिंदी में

आज हम बात करने जा रहे हैं दिवाली पर निबंध के बारे में दिवाली एक बहुत ही सुंदर और अच्छा त्यौहार है जो पूरे भारतवर्ष में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है।

दिवाली मनाने की प्रथा काफी सालों से चलती आ रही है यह हम हिंदुओं के लिए बहुत ही बड़ा पर्व माना जाता है इस त्यौहार में लोग अपने घर में अच्छे-अच्छे पकवान बनाते हैं और अपने घर को दीप से सजाते हैं। दिवाली त्योहार को हम रोशनी को त्योहार से भी जानते हैं इस त्योहार का महत्व हम इन दिनों के लिए बहुत ही ज्यादा है क्योंकि यह त्यौहार भगवान श्री राम जी के अयोध्या वापस लौटने की खुशी में मनाया जाता है।

और हर साल यही सोचकर इस त्यौहार को हम हिंदू बहुत ही धूमधाम से मनाते हैं बाहर पटाखे जलाते हैं घर में अच्छे-अच्छे पकवान बनाते हैं और अपने दोस्तों को अपने परिवारों को बहुत ही अच्छी अच्छी Diwali Wishes देते हैं।

आज मैं आपको दिवाली पर बहुत ही अच्छे अच्छे निबंध बताने वाला हूं निबंध छोटे छोटे भी बताऊंगा बड़े भी बताऊंगा आपको जो अच्छा लगे आप उसका इस्तेमाल अपने स्कूल या फिर कॉलेज के प्रोजेक्ट के लिए बहुत ही आसानी से कर सकते हैं।

दिवाली के इस पावन अवसर पर हमारे घर में भगवान गणेश जी और माता लक्ष्मी जी का पूजा किया जाता है। इस त्यौहार में सारे स्कूल कॉलेज मैं मानो एक प्रतियोगिता रखी जाती है और इस प्रतियोगिता में दिवाली पर निबंध लिखने की रखी जाती है।

आज हम आपके लिए ऐसे ही दिवाली पर अच्छे से निबंध लेकर आए हैं ताकि आप अपने प्रतियोगिता में जीत सके। इस आर्टिकल में दिवाली के बारे में पूरी जानकारी आपको मिलेगी चलिए जानते हैं।

दिवाली निबंध हिंदी में 100 शब्द | Essay on Diwali in 100 Words

Happy Diwali Essay in Hindi

दिवाली का यह त्यौहार हम सभी के लिए बहुत ही खुशियां भरा माहौल पैदा करती है और इससे फर्क नहीं पड़ता है कि आप बड़े हो या फिर बच्चे हो दिवाली का त्यौहार सभी के लिए उतना ही खुशी लेकर आती है जितना कि एक बच्चे के लिए लेकर आती है हर कोई इस पर्व का आनंद उठाता है और खूब खुशी से इसको मनाता है।

Related:- Happy Diwali Shayari in Hindi

होली का त्यौहार हर साल आता है जो की अक्सर अक्टूबर या फिर नवंबर के बीच में आता है दिवाली आने से पहले लोग अपने घरों में साफ-सफाई करते हैं और घरों को अच्छे से सजाते हैं नए कपड़े पहनते हैं और घर में अच्छे-अच्छे पकवान बनाते हैं और अपने घर में खूब सारा दीप जलाते हैं ताकि उनका घर रोशनी से भरा रहे।

दिवाली पर निबंध 150 शब्दों में | Diwali Essay in 150 Words

दिवाली के इस पावन अवसर पर सभी लोग दूसरे को दिवाली की हार्दिक शुभकामनाएं देते हैं बड़ों से आशीर्वाद लेते हैं और छोटे को प्यार देते हैं। दिवाली का त्यौहार है ही इतना प्यारा इसमें दुश्मन भी सब भूल कर दोस्त बन जाता है और इस त्यौहार को बड़ी धूम-धाम से मनाते हैं। दिवाली का त्यौहार अक्सर अक्टूबर या फिर नवंबर महीने के बीच में आता है।

इस साल दीपावली 4 नवंबर गुरुवार को आने वाला है सभी लोग तैयार हो जाए इस दिवाली के त्योहार को मनाने के लिए अगर आपको इस दीवाली के त्यौहार में एक दूसरे को बधाइयां देनी है और बहुत ही अच्छी अच्छी Wishes देना चाहते हैं तो मैंने Happy Diwali Wishes in Hindi के ऊपर काफी आर्टिकल लिखी है आप एक बार जरुर पढ़े।

दिवाली के त्यौहार को हम इसलिए मनाते हैं कि जब भगवान श्री राम राक्षस राजा रावण को युद्ध में हराकर अयोध्या 14 साल वनवास काटकर लौट रहे थे तब उनके आने की खुशी में लोग खूब सारे दिए जलाएं और पटाखे फोड़े और उस दिन बहुत ही खुशी वाला माहौल था तब से लेकर आज तक इस पर्व को दिवाली के नाम से हम जानते हैं और इस दिवाली के पर्व को हम बड़ी धूमधाम से मनाते हैं।

दिवाली पर निबंध 200 शब्द हिंदी में

दिवाली के इस त्यौहार को भारत के हर एक कोने में बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है क्योंकि यह थे वर्ड सिर्फ हिंदुओं के लिए नहीं है इस त्यौहार को जैन धर्म के लोग भी मनाते सिख धर्म के लोग भी मनाते हैं और भी धर्म है जो इस दीवाली के त्यौहार को बड़ी धूमधाम से मनाता है।

क्या आप जानते हैं?

दिवाली का त्यौहार भारत देश के अलावा और भी बाहर के देशों में मनाया जाता है हम वहां पर इतनी सजावट नहीं होती वहां पर इतना पूजा नहीं होता लेकिन दीवाली के त्यौहार के लिए छुट्टियां जरूर होती है।

दिवाली का त्यौहार सारे त्योहारों में से बहुत ही महत्वपूर्ण त्यौहार है इसे बहुत ही खुशी से हर साल मनाया जाता है। लोग कहते हैं कि भगवान श्री राम जब राक्षस रावण को हराकर अयोध्या 14 साल का वनवास काटकर लौट रहे थे तब उनकी आने की खुशी में खूब सारे दिए जलाए गए थे और उनका बहुत ही धूमधाम से स्वागत किया गया था।

दोस्तों तब से लेकर आज तक इस दिन को हम दिवाली के नाम से जानते हैं और हर साल इस पर्व को हम उतने ही खुशी से मनाते हैं जैसे मानो भगवान श्री राम हमारे द्वार आ रहे हैं। यह पर्व बच्चे जवान बोर्ड है सभी के लिए उतना ही खुशी वाला पर्व है सभी से बहुत ही दम से बनाते हैं यहां तक कि हमारे स्कूलों में कॉलेज में में दफ्तरों में भी दिवाली का त्यौहार को मनाया जाता है।

दिवाली पर निबंध 500 शब्द हिंदी में

दिवाली का त्यौहार हर भारतवासी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि इसके बारे में हम सुख के लिए समृद्धि के लिए धन के लिए अच्छी कामना करते हैं माता लक्ष्मी की पूजा करते हैं भगवान गणेश की पूजा करते हैं ताकि हमारे घर में सुख शांति बनी रहे और धन की कभी भी कमी ना हो।

इस पर्व को लाइटों से सजाया जाता है आमतौर पर इस पर्व को रोशनी को तैयार किया जाता है तो इस पर्व में सारे लोग अपने घरों को रोशनी को से सजा देते हैं और अपने घरों के आंगन में बहुत ही खूबसूरत खूबसूरत रंगोलियां बनाते हैं। इसमें लोग खूब सारी मिठाई खाते हैं और पटाखे भी जलाते हैं।

Related:- How to Say Happy Diwali in Hindi

दिवाली के इस त्यौहार को आने से कुछ दिन पहले ही लोग अपने घर के लिए समान खरीदना शुरू कर देते हैं दिवाली आने से एक दिन पहले धनतेरस पर्व को मनाया जाता है धनतेरस में लोग अपने घर में सोना चांदी के सामान खरीदते हैं।

लोग इस पर्व को बुराइयों पर अच्छाई की जीत का प्रतीक मानते हैं इसलिए इसे बड़ी धूमधाम से मनाते हैं। हिंदुओं कैलेंडर के अनुसार दिवाली के इस पावन अवसर पर सूर्यअस्त होने के बाद भगवान गणेश जी और माता लक्ष्मी जी की पूजा होती है इस पूजा को लोग धन की विधि और घर में सुख समृद्धि पानी के लिए कराते हैं और लोग अपने घरों में माता लक्ष्मी की आने की प्रतिज्ञा करते हैं। 

दिवाली के दिन भगवान गणेश जी और माता लक्ष्मी जी की कथा होती है कथा करानी बहुत जरूरी है क्योंकि पूजा करना भगवान की आरती करना हम भक्तों का धर्म है।

हमें करनी चाहिए ताकि भगवान का आशीर्वाद हम पर बनी रहे। दिवाली आने से पहले नवरात्रि का त्यौहार हमारे भारत देश में आता है लोग नवरात्रि भी बड़ी धूमधाम से मनाते हैं इस दिन दुर्गा मां की पूजा होती है हम दुर्गा मां की पूजा 9 दिनों तक करते हैं इस 9 दिनों में बहुत सारे लोग Fast भी करते हैं। 

दिवाली आने से पहले धनतेरस त्यौहार को मनाया जाता है इसके बाद छोटी दिवाली आती है छोटी दिवाली को भी लोग बहुत ही प्यार से तुमने हमसे मनाते हैं इसके बाद दिवाली आती है यह दिवाली का मुख पर्व है इस दिन लोग रात भर पटाखे चलाते हैं खुशियां मनाते हैं खूब सारी मिठाइयां खाते हैं.

और इस दिन के खत्म होने के अगले दिन गोवर्धन पूजा को मनाया जाता है इसके बाद आखरी दिन पांचवें दिन पर भाई दूज पर्व को मनाया जाता है दिवाली कुल 5 दिनों का त्यौहार है जिसे हम भारतवासी बड़ी धूमधाम से मनाते हैं।

दिवाली का त्यौहार को लोग बहुत ही धूमधाम से मनाते हैं लेकिन कुछ समय से 2 सालों से करो ना बीमारी की वजह से हमारा भारत देश बहुत ही बुरी तरह से लड़ रहा है और इसकी वजह से 2 सालों से दिवाली या फिर कोई भी ऐसी त्यौहार जहां भीर भार हो वह सब बनाने के लिए सरकार के द्वारा मना कर दिया गया है क्योंकि इस बीमारी से हमें बचना है और बचने के लिए हमें भीड़ इकट्ठा नहीं करना है.

Related:- Happy Diwali SMS In Hindi

इसलिए इस पर्व को हम लोग अपने घर में ही मना रहे हैं और अपने परिवारों के साथ ही इस त्यौहार का आनंद प्राप्त कर रहे हैं जब तक करोना नामक महामारी का पूरी तरह से विनाश ना हो तब तक आप बाहर नहीं जाएं और अपने घर में ही सारे पर्व को मनाए।

दिवाली का निबंध हिंदी में 10 लाइन

  • दिवाली का त्यौहार हम हिंदुओं के लिए बहुत ही बड़ा त्यौहार है इस दिन हम खूब सारे पटाखे जलाते हैं खूब मिठाई खाते हैं और खूब खुशियां मनाते हैं।
  • दिवाली त्योहार को राशियों का त्यौहार भी कहां जाता है।
  • दिवाली मनाने के पीछे यह कारण है कि जब भगवान श्री राम राक्षस रावण को हराकर 14 साल के बाद अपने अयोध्या लौट रहे थे तब उनके आने की खुशी में इस त्योहार को दिवाली के रूप में मनाया जाता है।
  • दिवाली के त्यौहार के दिन माता लक्ष्मी और भगवान गणेश जी की कथा कराई जाती है ताकि हमारे घर में माता लक्ष्मी और भगवान गणेश जी का आशीर्वाद बना रहे।
  • दिवाली का यह त्यौहार हिंदुओं के कैलेंडर के अनुसार हमेशा अक्टूबर या फिर नवंबर महीने के बीच में आता है।
  • इस साल दीपावली का त्यौहार 4 नवंबर गुरुवार को मनाया जाएगा।
  • दिवाली के त्यौहार के दिन घरों को बहुत ही अच्छी तरीके से रोशनी से सजाया जाता है।
  • दिवाली का त्यौहार 5 दिनों का त्यौहार है जिसमें सबसे पहले धनतेरस को मनाया जाता है इसके बाद छोटी दिवाली इसके बाद मुख्य दिवाली का पर्व इसके बाद गोवर्धन पूजा और आखिरी में भाई दूज त्यौहार को मनाया जाता है।
  • दिवाली के दिन सभी लोग नए नए कपड़े पहनते हैं अच्छे-अच्छे मिठाईयां खाते हैं और ढेर सारा पटाखे जलाते हैं।
  • दिवाली के दिन सभी लोग अपने आसपास पड़ोसियों को दिवाली की ढेरों शुभकामना देते हैं।

FAQ on Happy Diwali Essay in Hindi 

Q1. दिवाली का त्यौहार साल 2021 में कब मनाया जाएगा?

दिवाली का त्यौहार साल 2021 में 4 नवंबर गुरुवार को मनाया जाएगा।

Q2. दिवाली के इस त्यौहार को किस किस देश में मनाया जाता है?

दिवाली का त्यौहार भारत मैं तो मनाया जाता है यह इसी के साथ-साथ और भी अन्य देशों में भी अलग-अलग तरह से मनाया जाता है।

Q3. दिवाली के इस त्यौहार को हर साल कब मनाया जाता है?

दिवाली के त्योहार को हर साल अक्टूबर या फिर नवंबर महीने के बीच में मनाया जाता है।

Q4. दिवाली के त्यौहार के दिन कौन कौन से भगवान की पूजा कराई जाती है?

दिवाली के इस पावन अवसर पर भगवान गणेश जी और माता लक्ष्मी जी की कथा और पूजा कराई जाती है।

Conclusion 

दिवाली के इस पावन अवसर पर हम सब माता लक्ष्मी जी की पूजा करते हैं उनकी आराधना करते हैं ताकि उनका आशीर्वाद हम सब पर बना रहे हमारे जीवन में धन की कमी ना हो सुख समृद्धि की कामना है इसलिए दिवाली के त्यौहार को बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है और इस दिन भक्ति भावना से भगवान की पूजा कराई जाती है।

दिवाली का यह त्यौहार हमारे लिए सच में बहुत ही बड़ा त्यौहार है क्योंकि यह त्यौहार हमारे घरों में ढेर सारी खुशियां लाता है वैसे भी 2 सालों से खुशियां मानो कहीं दूर ही चली गई है जब से करोना काल आया है तब से हमारे घरों में या फिर किसी के घरों में खुशियां नहीं है सब लोग इससे परेशान हैं सब लोग इस से लड़ रहे हैं इसलिए इस साल हम भगवान से यह प्रार्थना करेंगे की करोना कार जल्द से जल्द खत्म हो जाए ताकि हम पहले की तरह अपने घरों से बाहर दिवाली के पर्व को मना सके और खूब सारे पटाखे चला सके।।

"Hey, I’m Mangesh Kumar Bhardwaj, A Full Time Blogger , YouTuber, Affiliate Marketer and Founder of BloggingQnA.com and YouTube Channel. A guy from the crowded streets of India who loves to eat, both food and digital marketing. In the world of pop and rap, I listen to Ragni."

Leave a Comment