आज के इस आर्टिकल में! मैं आपको Punjabi Bhasha Ki Lipi Kya Hai इसके बारे में बताने वाला हूं हम सभी जानते हैं हमारा भारत देश अलग-अलग भाषाओं से बना है और अलग-अलग भाषाओं की लिपियों से बना है जोकि हर क्षेत्र में बहुत ही प्यार से उपयोग किया जाता है।

जितने भी भाषाओं का हम प्रयोग करते हैं उन सब की कोई ना कोई लिपि जरूर होती है आज हम आपको पंजाबी लिपि किसे कहते हैं और पंजाबी भाषा की कौन सी लिपि है यह सब बताएंगे। अगर आप भी पंजाबी भाषा की लिपि क्या है इसके बारे में जानने के लिए इच्छुक हैं तो इस आर्टिकल को पूरा अंत तक पढ़े।

Also Read:- 1 Metre me Kitne Inch Hote Hai

पंजाबी एक हिंदी भाषा का अर्थ है और पंजाबी भाषा का जन्म भी संस्कृत भाषा से हुआ है क्योंकि कई साल पहले इस भाषा को लाया था हिंदी भाषा से एक कई सारी भाषाएं निकली है इसमें से बहुत सारे लिपि भी आती है पंजाबी भाषा भारत और पाकिस्तान के पंजाब राज्य में बहुत बड़े मुकाम पर बोली जाती हैं।

दोस्तों मैं आपको बताना चाहता हूं कि पंजाबी बोलने वाले की संख्या पाकिस्तान में सबसे ज्यादा है क्योंकि वहां पर पंजाबी लोग बहुत ज्यादा रहते हैं पाकिस्तान में पंजाबी बोलने वालों लोगों की संख्या तकरीबन 13 करोड़ से भी ज्यादा है और यह भाषा हमारे विश्व में 11वीं सबसे समृद्ध भाषाओं में से आती है।

Punjabi Bhasha की Lipi क्या है? | Punjabi Bhasha Ki Lipi Kya Hai

किसी भी भाषा को बोलने के लिए जैसे किसी भी विषय को वक्त करने के लिए हमें इस भाषा को अपनाई जाती है उस भाषा की लिखावत को लिपि के नाम से हम जानते हैं अथवा किसी भी भाषा के एकदम विशेष संकेत का उपयोग कराया जाता है उस लिखावट को हम लोग लिपि कहते हैं।

लिपि एक लिखित भाषा का ही हिस्सा है किसे लोग लिखावट के रूप में इस्तेमाल करते हैं जहां पर विभिन्न तरह के विचारों को लाया जाता है उसे लिखावट पर सजाया जाता है आपने देखा होगा कि ऐसे अलग-अलग भाषाओं में कहीं पर कुछ कहावतें लिखी होती है वह भी एक लिपि का ही भाग होता है।

Also Check:- 99+ Funny Wifi Names in Hindi 

आज के समय में ऐसी बहुत सारी लिपियां उपलब्ध है जैसे कि अरबी, यूनानी, देवनागरी, ब्राह्मी, गुरुमुखी इत्यादि और आज हम लोग इन्हीं सारी लिपियों में से एक लिपि क्योंकि पंजाबी भाषा की लिपि है जिसे हम गुरुमुखी के नाम से जानते हैं उसके बारे में बात करेंगे।

मैं आपको बता दूं पंजाबी भाषा की लिपि गुरुमुखी है जिसे हम गुरु के मुख से निकली हुई वाणी के नाम से जानते हैं वीर बहुत ही प्यारी लिपि होती है जिसे पंजाबी लोग इस्तेमाल करते हैं हमारे भारत देश में ऐसी बहुत सारी भाषाएं बनी है और हर एक भाषाएं की अलग-अलग लिपियां है।

गुरुमुखी लिपि का अर्थ क्या होता है?

पंजाबी भाषा की लिपि गुरुमुखी है यह तो हमने समझ लिया लेकिन इस लिपि का अर्थ क्या होता है अगर आप इस लिपि का अर्थ के बारे में जानते हैं तो अच्छी बात है अगर नहीं तो मैं आपको बता दूं इस लिपि का अर्थ दो जो गुरु के मुख से निकली हुई लिपि को हम सभी लोग गुरुमुखी लिपि के नाम से जानते हैं।

इसका मतलब यह है कि हम जिन्हें भी अपना गुरु मानते हैं और जिन से हम शिक्षा ग्रहण करते हैं उनके मुख से निकली हुई जो भिवानी होती है उन्हें हम लोग गुरुमुखी लिपि के नाम से जानते हैं इसलिए पी से भाषा का जन्म हुआ और ऐसा कहा जाता था कि इस गुरमुखी लिपि में 3 स्वर और 32 व्यंजन हैं।

जैसे जैसे समय बढ़ता गया वैसे-वैसे हमारी भाषाओं की लिपि भी अलग होती गई और जिसमे हिंदी भाषा की लिपि देवनागरी बन गई और भारत में देवनागरी भाषा बोलने वाले की संख्या बहुत ज्यादा है उसी तरह पंजाबी भाषा की लिपि गुरमुखी है जिनका उपयोग पंजाबी लोग करते हैं इस लिपि के भाषा में स्वरों के मात्राओं को मिलाकर एक अलग स्वर बना दिया जाता है।

इन स्वरों में कई सारे नाम है जैसे कि आया, उड़ी, सासा, हाहा इत्यादि। गुरमुखी पंजाबी भाषा की लिपि है क्योंकि बहुत ही सुंदर और प्यारी होती है जिसे पंजाबी और सिख लोग सवाल करते हैं और गुरमुखी लिपि का इस्तेमाल पाकिस्तान में रहने वाले लोग द्वारा बहुत ज्यादा किया जाता है।

End to End Encrypted Meaning in Hindi

FAQ on Punjabi Bhasha Ki Lipi Kya Hai

Q1. पंजाबी भाषा की लिपि क्या है?

पंजाबी भाषा की लिपि गुरमुखी लिपि है जिसे बड़े ही प्यार से सिख कौर पंजाबी लोग बोलते हैं यह एक लिखावट है जिसे लिपि के नाम से जाना जाता है।

Q2. गुरमुखी लिपि में कितने वर्ण होते हैं?

गुरमुखी लिपि में 35 वर्ण होते हैं।

Q3. गुरमुखी लिपि में कितने स्वर और कितने व्यंजन होते हैं?

गुरमुखी श्लिपि में 3 स्वर और 32 व्यंजन होते हैं।

Q4. गुरमुखी लिपि का अर्थ क्या है?

गुरमुखी लिपि का अर्थ गुरुओं के मुख से निकली हुई वाणी है जिसका मतलब यह होता है कि गुरुओं के मुख से जो भिवानी निकलती हैं उस भाषा को हम गुरुमुखी लिपि का अर्थ समझते हैं यह बहुत ही सुंदर और प्यारा लिपि है।

Conclusion

आज के समय में ऐसे भी लोग हैं जिनको शायद इन सब भाषाओं की लिपि के बारे में मालूम नहीं होता है क्योंकि हम सिर्फ अपने हिंदी भाषा के बारे में जानते हैं और कोई भाषा के बारे में हम नहीं जानते हैं लेकिन हमें हर एक भाषा की लिपि के बारे में जानना चाहिए यह हमारे भविष्य में बहुत काम आता है।

और सिर्फ हिंदी भाषा की नहीं बल्कि हमें अलग-अलग भाषाओं को भी जानना चाहिए उसके बारे में पढ़ना चाहिए और उनको समझना चाहिए क्योंकि हमारा भारत से से से कासा से नहीं मुझसे बनाए यह अनेक  भाषाओं को मिलाकर बना है।

और इसी तरह मैंने आपको इस आर्टिकल में आज यह बताया है कि Punjabi Bhasha Ki Lipi Kya Hai मुझे पूरी उम्मीद है कि आप कोई आर्टिकल पसंद आया होगा और यहां से थोड़ी बहुत जानकारी आपको मिली होगी अगर आप भी इस बारे में जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को एक बार पूरा अंत तक पढ़ सकते हैं।