आज हम लोग शिक्षक दिवस के भाषण (Teachers Day Speech in Hindi) के बारे में जानने वाले हैं हमारे भारत देश में हर वर्ष 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है।

शिक्षक दिवस का महत्व उस दिन काफी ज्यादा होता है उस दिन विद्यार्थी अपने शिक्षकों को सम्मान देते हैं, आदर देते हैं उनके बारे में कुछ शब्द कहते हैं अपनी भावनाओं को शब्दों के द्वारा छात्र अपने स्कूल में या फिर अपने कॉलेज में Speech देते हैं।

मैं आपको बता दूं हमारे भारत देश में शिक्षक दिवस मनाने की शुरुआत तकरीबन 1962 में हुई थी।

Teachers Day हमारे भारत देश के पूर्व उपराष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के नाम पर मनाया जाता है। डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन हमारे भारत देश के शिक्षा मैं काफी बड़ा योगदान दिए आज हम लोग हर वर्ष 5 सितंबर को Teachers Day बनाते हैं तो वह सिर्फ डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के वजह से ही इन्होंने ही आज का शुभ अवसर बनाने का मौका दिया था।

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर 1888 को हुआ था और इनकी मृत्यु 17 अप्रैल 1975 को हुआ था। डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन हमारे भारत के पहले Vice President of India (1952 – 1962) बने थे और इसी के साथ-साथ दूसरे Present of India (1962 – 1967) बने थे।

जब डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन हमारे देश के President बने थे तब उनके कुछ छात्र और मित्र उनके जन्मदिन को Celebrate करने के लिए बोले थे तब डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने उनको जवाब दिया था की मेरे जन्मदिन को मनाने के बजाय अगर इस दिन को शिक्षक दिवस का नाम दे दिया जाए इससे गर्व की बात मेरे लिए कुछ नहीं हो सकती। तब से लेकर आज तक हर साल हमारे भारत देश में 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है।

5 सितंबर के दिन हम सारे विद्यार्थी अपने शिक्षकों को सम्मान देते हैं उनकी आदर करते हैं हालांकि शिक्षकों को आदर करने के लिए किसी तारीख की जरूरत नहीं है शिक्षकों का सम्मान हर दिन हर पल होना चाहिए क्योंकि उनकी वजह से ही हम जैसे छात्र का एक अच्छा भविष्य बनता है अगर हमें पढ़ाने वाले शिक्षक ना रहे तो आज शायद हमारा भारत देश इतना आगे नहीं बढ़ पाता इसलिए हमारे जीवन में शिक्षकों का महत्व बहुत ज्यादा है और उस महत्व को सम्मान देने के लिए हम लोग हर साल 5 सितंबर को Teachers Day मनाते हैं।

Teachers Day के दिन हम जैसे विद्यार्थी अपने शिक्षकों के लिए अलग-अलग तरह से उनको सम्मान देते आज के दिन हम अपने स्कूल में अपने कॉलेज में अपने कोचिंग संस्थाओं में अपने गुरु के लिए बहुत ही अच्छा Speech देते हैं कुछ छात्र तो अपने गुरु के लिए उपहार भी लेकर आते हैं अगर आप भी चाहते हैं कि आप अपने शिक्षकों के लिए बहुत ही अच्छा एक Speech दे और वह भी हिंदी में तो खास आप लोगों के लिए मैंने Speech तैयार किया है ताकि आप उन स्पीच को पढ़कर अपने गुरुओं का सम्मान अच्छी तरह से कर सकें ।

आज के दिन शिक्षक के लिए एक बहुत अच्छा स्पीच देना उनको सम्मान देना बहुत जरूरी है क्योंकि आज के समय में शिक्षक कहीं ना कहीं अभी भी अपना काम पूरी निष्ठा से करते हैं लेकिन शायद छात्र अपना कर्म भूल रहे हैं छात्रों का काम है शिक्षकों को आदर देना उनकी इज्जत करना उनसे प्यार करना और कहीं ना कहीं छात्र इसे करना भूल रहे हैं इसलिए आज के दिन शिक्षकों के लिए एक बहुत ही अच्छा Speech देना बहुत जरूरी है इनसे उनका महत्व और सम्मान दोनों बढ़ता है इस लेख के साथ बने रहे हैं ताकि आप भी अपने शिक्षकों के लिए एक बहुत ही अच्छा Speech दे सके यह जाने से पहले हम शिक्षक दिवस के बारे में थोड़ा सा जान लेते हैं कि इसे आखिरकार क्यों मनाया जाता है और कैसे मनाया जाता है।

शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है

teachers day speech in hindi

हमारे भारत देश के पहले उपराष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के जन्मदिन पर यह अफसर को मनाया जाता है इस दिन हम अपने शिक्षकों के लिए स्पीच देते हैं।

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का शिक्षा और पढ़ाई के प्रति काफी ज्यादा योगदान रहा है राधा कृष्णा जी कहते थे कि अगर किसी इंसान को अपने जीवन में कुछ करना है कुछ बनना है किसी मंजिल तक जाना है तब शिक्षा का होना बहुत जरूरी है एक व्यक्ति अगर शिक्षित नहीं है तब वह एक समझदार इंसान नहीं बन सकता।

राधा कृष्णा जी अपने समय में ऐसे कई सारे विद्यार्थियों को अपनी दिए गए शिक्षा द्वारा उनका भविष्य को अच्छा बना गए थे।

इनका मानना था कि हर इंसान की जिंदगी में शिक्षा का बहुत ज्यादा Importance है क्योंकि शिक्षा ही एक ऐसा चीज है जो आपको आपके आने वाले भविष्य की चुनौतियों से लड़ने के लिए तैयार करता है।

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जीने अपने जीवन का महत्वपूर्ण 40 साल शिक्षा के क्षेत्र में बिताए हैं और जैसे कि मैंने आपको बताया था अपने समय में राधा कृष्णा जी ने ऐसे कई सारे विद्यार्थियों का भविष्य संवारा था। इसी के बाद जब हमारा देश आजाद हुआ था तब उसी के कुछ समय बाद डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी हमारे देश के पहले उपराष्ट्रपति बने थे और फिर राष्ट्रपति बने थे।

डॉ राधाकृष्णन जी शिक्षा को लेकर काफी भावुक थे और उन्होंने शिक्षा से ही प्रेम किया था और वह चाहते थे कि उनके जन्मदिन पर ही शिक्षक दिवस को मनाया जाए यह उनके द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में दिए गए बहुत बड़ा योगदान हमारे देशवासियों के लिए बहुत बड़ा सम्मान रहा है और यही कारण है कि हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस हमारे भारत देश में मनाया जाता है।

शिक्षक दिवस कैसे मनाया जाता है

इस दिन सारे विद्यार्थी अपने शिक्षकों के लिए अलग अलग तरीके से सम्मान देते हैं जैसे कि इस दिन विभिन्न स्कूलों में कॉलेज में शिक्षकों के लिए Speech दिया जाता है और कहीं-कहीं तो नृत्य कार्यक्रम भी आयोजित करा जाता है।

अगर देखा जाए तो शिक्षक और एक विद्यार्थी के बीच में अनुशासन और सम्मान जैसा रिश्ता होता है लेकिन आज के दिन विद्यार्थी और शिक्षक के बीच की दूरी को हटाकर शिक्षकों को अच्छा महसूस कराने के लिए उनका आदर और सम्मान करने के लिए विद्यार्थी उनको कई सारे उपहार देते हैं उनके लिए नृत्य करते और उन्हें सम्मान देने के लिए बहुत ही अच्छा Speech भी देते हैं।

मैं आपको बता दूं पूरे देश में 5 सितंबर के दिन शिक्षक दिवस को नहीं माना जाता है हर एक देश का अलग-अलग तारीख है जैसे कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शिक्षक दिवस को 5 अक्टूबर को मनाया जाता है और पाकिस्तान में 5 अक्टूबर को श्रीलंका में 6 अक्टूबर को ईरान जैसे देशों में 2 मई को मनाया जाता है।

विश्व शिक्षक दिवस का उद्देश्य यह है कि दुनिया के शिक्षकों की Appreciation, Assessing और Improvement पर ध्यान केंद्रित करना है और Teachers और Teaching से संबंधित मुद्दों पर विचार करने का अवसर प्रदान
करना है।

शिक्षक दिवस पर भाषण हिंदी में – Teachers Day Speech in Hindi (500 Words)

आदरणीय प्रधानाचार्य महोदय, और मेरे प्यारे दोस्तों, आज शिक्षक दिवस के इस अवसर पर मेरी ओर से आप सभी को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

आज के दिन मैं अपने आदरणीय प्रधानाचार्य महोदय के लिए कुछ शब्द कहना चाहता हूं। आज हम लोग इकट्ठे हुए हैं शिक्षक दिवस को मनाने के लिए हमारे पूरे भारत देश में विद्यार्थियों के लिए आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण होता है क्योंकि आज के दिन विद्यार्थी अपने शिक्षकों के लिए सम्मान, आदर प्रदान करते हैं। Teachers Day को हम लोग काफी धूमधाम से मनाते हैं और हम लोग अपने शिक्षकों से आशीर्वाद प्राप्त करते हैं आज के ही दिन डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्म हुआ था। डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन हमारे भारत देश के पहले उपराष्ट्रपति बने थे इन्होंने अपने जीवन के महत्वपूर्ण 40 साल Teacher के रूप में बिताए हैं और अपने समय में इन्होंने ऐसे कई सारे छात्र को पढ़ा कर उनका भविष्य उज्जवल किया था। डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन शिक्षा के क्षेत्र में बहुत बड़ा योगदान दिए है और इनके शिक्षा के प्रति लगन और Teachers के प्रति सम्मान को देखकर उनके जन्मदिन के दिन ही शिक्षक दिवस को मनाया जाने लगा।

हमारे जीवन में एक शिक्षक का महत्व उतना ही होता है जितना मछली के जीवन में पानी का महत्व होता है। एक अच्छा शिक्षक विद्यार्थियों के भविष्य को उज्जवल बनाने में मदद करता है माता-पिता हमें जन्म देते हैं लेकिन शिक्षा देने के लिए एक शिक्षक को बनाया गया है और शिक्षा हमें Teachers के द्वारा मिलता है। Teachers हमें सिर्फ किताबी पढ़ाई नहीं पढ़ाते हैं शिक्षक हमें सही और गलत का फर्क बताते हैं हमारे चरित्र को बनाते हैं अगर विद्यार्थियों के जीवन में एक अच्छा शिक्षक नहीं होगा जो उसे सही मार्गदर्शन दिखाएं तो शायद ही विद्यार्थियों का भविष्य उज्जवल हो पाएगा।

शिक्षकों का स्थान हमारे जन्म देने वाले माता पिता से ऊपर होता है क्योंकि शिक्षक के बिना जीवन कैसे होगी हम कल्पना भी नहीं कर सकते भले शिक्षक हमें डांटते हैं, हमें पीटते हैं लेकिन वह हमारे भलाई के लिए ही करते हैं। कहते हैं ना शरीर को चलते फिरते रहने के लिए खाने की जरूरत होती है उसी तरह हम अपने जीवन में कुछ हासिल कर पाए कुछ बन पाए उसके लिए शिक्षा की जरूरत होती है और शिक्षा हमें Teachers के द्वारा मिलती है इसलिए एक शिक्षक का स्थान माता-पिता से ऊपर का दिया गया है। एक सही शिक्षक वही होता है जो हमारे अंदर अच्छाई डालता है और बुरी चीजों को बाहर निकाल कर फेकता है बेशक शिक्षक कठोर होते हैं लेकिन अंदर ही अंदर शिक्षक अपने विद्यार्थियों से बेहद प्यार करते हैं और वह चाहते हैं कि उनकी द्वारा दी गई शिक्षा की मदद से उनकी विद्यार्थी आगे चलकर बहुत बड़ा नाम कमाए और अपने शिक्षक का नाम रोशन करें।

हम अपने जीवन में शिक्षकों के द्वारा दी गई शिक्षा को ग्रहण करते हैं हमें उसके लिए अपने Teachers का सम्मान करना चाहिए उनकी आदर करना चाहिए क्योंकि उनकी वजह से ही हम अपने जीवन में कुछ हासिल कर पाते हैं और उनके इस योगदान के लिए हम सभी विद्यार्थियों को उनका सम्मान करना चाहिए एक बार पूरे विद्यार्थियों की तरफ से और तहे दिल से आप सभी को शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं।

धन्यवाद!

Note: भाषण देने का मतलब होता है आप अपने अंदर के विचार को सामने रख सके तो अगर आप किसी और के विचार सामने रखते हैं तो शायद वह उतना आकर्षित नहीं होगा तो मैं आपसे Request करूंगा कि आप Teachers Day पर Speech खुद से दे आप हमारे लेख को पढ़कर एक Idea ले सकते हैं लेकिन आप उसमें शब्द अपना डालें भावनाएं अपना डालें क्योंकि जब आप एक Speech मैं खुद के भावनाओं को जोड़ते हैं तब आपका लेख बहुत ही निखर कर सामने आता है इसलिए शिक्षक दिवस के अवसर पर आप अपने शब्दों से अपने शिक्षकों को आदर प्रदान करें।

टीचर्स डे स्पीच इन हिंदी फॉर क्लास वन – Teachers Day Speech in Hindi For Class 1

माननीय महोदय जी और मेरे प्यारे दोस्तों, आज 5 सितंबर है और आज के दिन हम सभी हमारे Teachers का सम्मान करते हैं आदर करते हैं और बहुत धूमधाम से शिक्षक दिवस को हमारे भारत देश में मनाते हैं। मेरा नाम अभिषेक है और मैं आज के इस खास मौके पर आप सभी का स्वागत करता हूं पर मैं बहुत खुश हूं कि मुझे आज Teachers Day पर Speech बोलने का मौका मिला। हर साल आज के दिन शिक्षक दिवस को आयोजित किया जाता है। हमारे भारत देश के पहले उपराष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन पर ही इस अवसर को मनाया जाता है।

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी की वजह से आज हम लोगों को हमारे शिक्षकों के प्रति सम्मान व्यक्त करने का मौका मिला है आज के इस विशेष दिन पर मैं डॉ राधाकृष्ण जी जिन्होंने अपने योगदान से न जाने कितने छात्रों का भविष्य उज्जवल किया है मैं उनके बारे में कुछ कहना चाहता हूं।

शिक्षक दिवस हमारे भारत देश में 5 सितंबर को मनाया जाता है आज ही के दिन हमारे माननीय पहले उपराष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्म हुआ था। इन्होंने शिक्षक के रूप में कई सालों तक अपना काम किया और ढेर सारे विद्यार्थियों का जीवन सफल करने में मदद किया। एक शिक्षक का महत्व हमारे जीवन में बहुत ज्यादा है क्योंकि शिक्षक के वजह से ही हम अपने भविष्य का चुनाव कर पाते हैं अगर एक शिक्षक हमारे जीवन में ना हो तो हम यह सोच भी नहीं सकते कि हमारा जीवन आगे चलकर कैसा होगा क्योंकि कुछ भी करने के लिए हमें शिक्षा की बहुत जरूरत पड़ती है और शिक्षा हमें शिक्षक के द्वारा मिलती है इसलिए हम अपने जीवन में हर पल अपने शिक्षकों को सम्मान करते रहेंगे उनका आदर करते रहेंगे। मैं फिर से आप सभी शिक्षकों को तहे दिल से धन्यवाद करना चाहता हूं क्योंकि आप लोगों की मेहनत की बदौलत हम जैसे छात्र को एक अच्छा मार्गदर्शन मिलता है और हम अपने जीवन में कुछ हासिल कर पाते हैं। मेरी ओर से और सारे विद्यार्थियों की ओर से आप सभी को Teacher Day की शुभकामनाएं।

धन्यवाद!

टीचर पर शायरी इन हिंदी – Teachers Day Shayari, Quotes in Hindi

● हम जैसे विद्यार्थियों को जो बनाए अच्छा और सच्चा इंसान, हमें दे सही और गलत की पहचान, उन शिक्षकों को मेरी ओर से कोटि कोटि प्रणाम।
● एक शिक्षक की बिना हमारा भविष्य एक अंधकार में चला जाता। हमारा मार्गदर्शन करने के लिए हमें प्रेरणा देने के लिए और आज हम जो हैं उसे बनाने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।
● आपने हमेशा हमारे माता-पिता की तरह हमारी रक्षा की, हमें एक शिक्षक की तरह पढ़ाया और एक गुरु की तरह हमारा मार्गदर्शन किया। आज आपका दिन है और आज हम सारे विद्यार्थी आप का सम्मान करते हैं।
● मुझे एक इंसान से है Guidance, Friendship, Discipline और प्यार यह सब मिला है और वह इंसान आप है। Happy Teachers Day
● आपके ही कारण आज मैं अपने आप को एक बेहतर इंसान बना पाया मेरा मार्गदर्शन करने के लिए और मुझे शिक्षा देने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

FAQ on Teacher’s Day in Hindi

Q1. भारत में शिक्षक दिवस को कब मनाया जाता है?

शिक्षक दिवस का भारत में 5 सितंबर को मनाया जाता है।

Q2. भारत के अलावा और देशों में Teachers Day कब मनाया जाता है?

भारत के अलावा 11 देशों में टीचर्स डे 28 फरवरी को मनाया जाता है।

Q3. हमारे भारत देश में पहली बार शिक्षक दिवस (Teachers Day) कब मनाया गया था?

हमारे भारत देश में पहली बार शिक्षक दिवस (Teachers Day) 1962 में मनाया गया था।

World Teachers Day कब मनाया जाता है?

World Teachers Day को International Teachers Day भी कहा जाता है और इसे 5 अक्टूबर को मनाया जाता है।