Ayushman Card Kaise Banta Hai – आयुष्मान कार्ड से जुड़े सारी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तो! आपने अबतक आयुष्मान कार्ड के बारे में तो सुन ही लिया होगा अगर नहीं तो में आपको बता दू आयुष्मान गोल्डन कार्ड हमारे सरकार द्वारा लाई गई ऐसी योजना है जिनसे सभी लोगो की मदद की जायेगी जो गरीब है या जिनके पास अपने इलाज के पैसे नहीं है।

हमारी सरकार आए दिन कोई न कोई ऐसी योजना लाती रहती है जिनसे गरीब लोगो की काफी मदद होती है उन्ही सब योजना में एक आयुष्मान गोल्डन कार्ड योजना आया है और ये योजना इसी साल भारत सरकार द्वारा लाई गई है।

इस योजना में सरकार हमे बीमारी के होने के बाद जो पैसा लगता है उसकी सहायता करेगी और ये योजना काफी लोगो की मदद करने वाली है काफी लोग इसके बारे में पूछ रहे थे की Ayushman Card Kaise Banta Hai या Ayushman Golden Card क्या है तो अगर आप भी इसके बारे में जानना चाहते है तो इस आर्टिकल को पूरा अंत तक जरूर पढ़े।

Aly Goni Biography in Hindi

आयुष्मान गोल्डन कार्ड के द्वारा कोई भी व्यक्ति इस योजना में चुने का सरकारी और अपने आसपास के अस्पतालों में खुद का 5 लाख तक का मुफ्त में इलाज करवा सकता है और ये सभी लोगों के लिए उपलब्ध है और यह मौका सिर्फ उन्हीं लोगों को मिलेगा जिन्होंने अपना आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनवाएंगे।

इस कार्ड की मदद से जितने भी गरीब लोग हैं उन सभी को बहुत लाभ पहुंचेगा और आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2022 बनवाने के लिए रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन तरीके से चालू हो चुका है और कोई भी व्यक्ति अपना खुद का आयुष्मान कार्ड बनवाकर इस योजना का लाभ उठा सकता है।

आयुष्मान भारत योजना क्या है – What is Ayushman Bharat Yojana

हम सभी जानते हैं हमारे देश कि सरकार आए दिन कोई न कोई योजना लाती रहती है ताकि उस योजना का गरीब लोग फायदा उठा सकें उसी तरह हमारे भारत सरकार द्वारा एक नई योजना आई है जिसका नाम आयुष्मान भारत योजना इस योजना में बीमारी पर होने वाले खर्च के लिए पैसा सरकार देगी।

Shark Tank India Kya Hai 

इस योजना के तहत कोई भी गरीब व्यक्ति 5 लाख तक का मुफ्त इलाज करा सकता है इस योजना का सबसे खास बात यह है कि इस योजना में निवेशकों की जगह कम है जिसके लिए हर कोई इसमें लाभ उठा सकता है लेकिन इस योजना का लाभ सिर्फ उन्हीं लोगों को मिलेगा जिनके पास आयुष्मान भारत कार्ड होगा।

आयुष्मान गोल्डन भारत योजना के अंदर बहुत सारी बीमारियों का इलाज आएगा जैसे कि कैंसर, दिल की बीमारी, किडनी, लीवर की बीमारी, डायबिटीज समेत 1300 तक कुछ बीमारियों का इलाज सरकार के द्वारा मुफ्त में कराई जाएगी और इन सभी बीमारियों का इलाज सभी सरकारी अस्पताल और प्राइवेट अस्पताल में किया जाएगा।

आयुष्मान भारत योजना को हमारे देश मैं पूरी तरह से चलाने के लिए भारत सरकार द्वारा आयुष्मान कार्ड बनाकर किया जा रहा है जिनमें उनके पास आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड होगा उन्हीं लोगों को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा और यह इसीलिए हो रहा है ताकि नागरिकों को किसी भी तरह से परेशानी ना हो जिन लोगों के पास अपना कार्ड होगा वह इस योजना का पूरा फायदा उठाएंगे।

आयुष्मान भारत योजना के तहत आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाने के लिए क्या प्रोसेस है और किस तरह से यह कार्ड बनेगा इसके बारे में! मैं आपको नीचे पूरी जानकारी दूंगा आइए जानते हैं।

आयुष्मान भारत योजना गोल्डन कार्ड क्या है?

हमारे दुनिया का सबसे बड़ा हेल्थ इंश्योरेंस योजना ट्रांस शुरुआत साल 2018 में ही भारत सरकार द्वारा कर दिया गया था लेकिन तब इस योजना को बहुत कम लोग जानते थे लेकिन धीरे-धीरे अब आयुष्मान भारत योजना सभी लोग जाने लगे और इसके लिए लोग जानना चाहते हैं कि कैसे अपने कार्ड को बनाया।

इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा 10 करोड़ गरीब परिवारों को लाभ पहुंचाना है और इस योजना के अंदर आप अपने या फिर अपने किसी परिवार के सदस्य को 5 लाख रुपए तक का मुफ्त का इलाज किसी भी अस्पताल से करा सकते हैं और इसी के साथ इसमें 50 करोड़ नागरिकों को लाभ प्राप्त होगा।

Aniruddacharya Ji Maharaj Fees in Hindi

आयुष्मान भारत योजना के तहत आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाया जा रहा है ताकि हर एक इंसान के पास यह कार्ड हो और वह व्यक्ति अच्छे परिवार का मुफ्त में इलाज करा सकें और तुम्हें किसी भी तरह की कोई परेशानी ना आए। आयुष्मान गोल्डन कार्ड में नागरिक की पूरी जानकारी भरी जाती है साक्षी कोई भी व्यक्ति किसी भी अस्पताल में जाकर अपना मुफ्त में इलाज करा सकें।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना जानकारी 

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना के बारे आपको जरूर जानकारी होनी चाइए क्यों की ये योजना काफी सारे लोगो को मदद कर सकती है और काफी लोगो को किसी बारे बीमारी से बचा सकती है आए जानते है इसकी पूरी जानकारी।

योजना का नामआयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2022
लाभार्थीदेश के गरीब नागरिक
लाभ500000 का बीमा
कब शुरू की गई14 अप्रैल 2018
वेबसाइटhttps://mera.pmjay.gov.in/search/login

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनाने के लिए दस्तावेज

दोस्तों आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए आपके पास कुछ जरूरी दस्तावेज होनी चाहिए जबकि आपको कार्ड बनाने वक्त देना पड़ेगा क्योंकि बहुत सारे लोगों को इसके बारे में पूरी जानकारी नहीं है इसकी वजह से उनका कार्ड नहीं बन पाता है तो इस कार्ड को मनाने में जो जरूरी दस्तावेज है वो कुछ इस प्रकार है।

  • आधार कार्ड 
  • राशन कार्ड
  • पीएम लेटर (प्रधानमंत्री के द्वारा भेजा गया पत्र)
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर

Note : आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाने से पहले मैं आपको कुछ बातों की जानकारी देना चाहता हूं अगर आपको पीएम लेटर प्रधानमंत्री के द्वारा भेजा गया प्रेम लेटर आया है तो आप इसे राशन कार्ड की जगह पीएम लेटर दे सकते हैं और अपना कार्ड बनवा सकते हैं क्योंकि पीएम लेटर से भेजा गया पत्र आपका कभी भी आयुष्मान कार्ड बनाने में रिजेक्ट नहीं होगा इसलिए आप राशन कार्ड की जगह पीएम लेटर का इस्तेमाल कर सकते है और आप जब भी आवेदन पत्र बनवा आएंगे तो अपने बारे में सही-सही जानकारी जरूर दें।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड कैसे बनवाएं

आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत हमारे भारत के साथ बहुत ही तेजी से काम कर रही हो और इस योजना को हर एक घर में पहुंचाने की कोशिश कर रही है ताकि हर एक इंसान इस योजना का लाभ उठा सकें जो भी नागरिक आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के लिए पात्र है वह इस कार्ड को बनवा सकता है।

Also Check this:- Postmortem Kya hai

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड को बनाने के लिए 2 तरीकों का इस्तेमाल किया जा सकता है इसके बारे में मैं आपको नीचे पूरा विस्तार से बताऊंगा आप इन दोनों में से किसी भी एक तरीके से अपना आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं।

  1. जन सेवा केंद्र द्वारा गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं
  • जिस व्यक्ति को अपना आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनाना है उसे अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र में जाना होगा।
  • जनसेवा वाले आपका नाम अपने आयुष्मान भारत न्यूजीलैंड चेक करेंगे देखेंगे कि आपका नाम इस योजना में है या नहीं है।
  • अगर आपका नाम उनके लिस्ट में होगा तो आपको तुरंत आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड उपलब्ध करा दिया जाएगा।
  • इसके बाद आपको अपनी जरूरी दस्तावेज जन सेवा केंद्र के एजेंट को देना होगा जैसे कि आधार कार्ड, राशन कार्ड, रजिस्टर मोबाइल नंबर इत्यादि।
  • जैसे ही आप यहां तक अपना सारा जानकारी के लिए एजेंट को दे देंगे वह आपके सारी जानकारियों का पंजीकरण करेगा और इसके बाद आपको पंजीकरण आईडी दे दिया जाएगा।
  • पंजीकरण आईडी मिलने के बाद जन सेवा केंद्र वाले आपको तकरीबन 10-15 दिन के अंदर आपका आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड दे देंगे।
  • गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए कुछ Fees भी रखी गई है जो कि मात्र ₹30 है।
  1. रजिस्टर सरकारी अथवा गैर सरकारी अस्पतालों से कार्ड बनवा सकते है

हमारे भारत देश की ग्रामीणों और दूरदराज क्षेत्रों में आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड को बनाने के लिए जन सेवा केंद्र भारत सरकार द्वारा व्यवस्था कराई गई है लेकिन दोस्तों जितने भी बड़े-बड़े शहर हैं उन सभी शहरों में जन सेवा केंद्र की व्यवस्था नहीं होती है।

जिसके कारण आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए आपको अपने शहर के किसी नजदीकी पंजीकृत प्राइवेट अथवा सरकारी अस्पताल में जाकर अपना भारत गोल्डन कार्ड बनवाना होगा इस योजना का लाभ आप सभी उठा पाएंगे जब आपके पास यह कार्ड होगा इसलिए अभी जाए और तुरंत अपना आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनाएं।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनाने के लिए आपको अपने साथ आधार कार्ड राशन कार्ड और रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर लेकर जाना होगा वह नंबर साथ में लेकर जाएं जिसकी माध्यम से हाथ अपने पूरे परिवार का नाम आयुष्मान भारत योजना लिस्ट में शामिल किया गया है।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड डाउनलोड कैसे करें

अगर आपने आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के लिए Apply कर दिया है और उसके जितने भी जरूरी दस्तावेज है उसको जमा कर दिया है तो आपका आयुष्मान गोल्डन कार्ड 3 दिनों के अंदर आ जाता है जैसे ही आपका गोल्डन कार्ड आता है आप उसे प्रिंट आउट के द्वारा बाहर भी निकाल सकते हैं और किसी नजदीकी अस्पताल में उसका उपयोग भी कर सकते है।

Also Read:- Best 100+ Truth and Dare Question in Hindi

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड को डाउनलोड करने के लिए आपको जन सेवा केंद्र में जाना होगा जहां से आप भी गोल्डन कार्ड के लिए आवेदन किया था दोस्तों आप अपने खुद का आसमान गोल्डन कार्ड को डाउनलोड नहीं कर सकते हैं इसलिए आपने जहां से आवेदन किया था वहीं से जाकर डाउनलोड करवाएं और जन सेवा केंद्र द्वारा गोल्डन कार्ड को डाउनलोड करने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है।

  • आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड को डाउनलोड करने के लिए आप सबसे पहले सीएससी के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर पहुंचने के बाद आपको अपने यूजर आईडी और पासवर्ड से अपना अकाउंट खोलना होगा।
  • जैसे ही आप अपना अकाउंट खोलेंगे आपके होम पेज पर Approved Beneficiaries वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा जिसके लिए आपको उस Date को सिलेक्ट करना होगा जिस डेट पर आपने गोल्डन कार्ड के लिए आवेदन किया था इसके बाद आपको Submit वाले ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • जैसे ही आप Submit करेंगे तो आपको अपने द्वारा किए गए आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड आवेदन में से अप्रूव आयुष्मान गोल्डन कार्ड की लिस्ट आपके सामने आ जाएगी।
  • अगर उस लिस्ट में आपका नाम होगा तो आप कंफर्म प्रिंट पर क्लिक कर देंगे।
  • इसके बाद आपका नाम CSC VLE के अंदर आ जाएगा इसके बाद आपको जन सेवा केंद्र वॉलेट मैं पूर्ण निर्देशित किया जाएगा।
  • इसके बाद आप CSC वॉलेट में अपना पासवर्ड डालें और इसके बाद आप पिन भरे है जिससे आप इस कसीदा होम पेज पर पहुंच जाएंगे।
  • इसके बाद दोस्तों आपके सामने उम्मीदवार के नाम के सामने डाउनलोड बटन का ऑप्शन दिखाई देगा उस पर आपको क्लिक करना है।
  • लाभार्थी के नाम पर क्लिक करने से आपका आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड डाउनलोड हो जाएगा जिससे आप प्रिंट करा कर अपने पास बहुत ही सुरक्षित तरीके से रख सकते हैं और आगे चलकर इसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड का मुख्य उद्देश्य क्या है

  • आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड का मुख्य उद्देश्य यह है कि गरीबी रेखा से नीचे जितने भी परिवार आते हैं उन सब को बीमारी से मुक्त सेवा प्रदान कराए जाए।
  • गोल्डन कार्ड का मुख्य उद्देश्य भी है कि जितनी भी गरीब लोग हैं जो अपनी बीमारी का इलाज नहीं कर पाते हैं और जिसकी वजह से वह अपना जान गवा बैठते हैं उस चीज को अब कम किया जाए जितनी भी गरीब लोग हैं उन सबको 500000 तक का मुफ्त सेवा कराया जाएगा।
  • आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड योजना का मुख देसी अभी है कि गरीब लोगों को बीमारियों से बचाया जाए।
  • इसी योजना के अंदर देश के लगभग 10 करोड़ गरीब नागरिक को स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाएगा।
  • हमारे देश के प्रधानमंत्री का यह मानना है कि हमारे इस देश से बीमारी हमेशा के लिए दूर चला जाए किसके लिए वह आयुष्मान गोल्डन कार्ड जैसी योजना लाए हैं।

FAQ on Ayushman Card Kaise Banta Hai

Q1. आयुष्मान कार्ड क्या है?

आयुष्मान गोल्डन कार्ड एक ऐसा योजना है जिसमें गरीब लोगों को ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान कर आ जाएगा।

Q2. आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड कितने दिनों के अंदर मिल जाता है?

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 10 से 15 दिनों के अंदर आपका मिल जाता है।

Q3. आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें?

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के लिए आपको कुछ महत्वपूर्ण बंदे को फॉलो करना होगा इसमें थोड़ा समय लगेगा लेकिन अगर आप गोल्डन कार्ड के लिए आवेदन करते हैं तो ऊपर मेरे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ सकते हैं और आप अपना गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं।

Q4. आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड को बनाने के लिए कितना पैसा देना होगा?

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड का बनाने के लिए सिर्फ ₹30 का फीस लगता है।

Conclusion

हमारे भारत देश की सरकार लोगों के लिए बहुत सारा सेवा प्रदान करती आ रही है और आने वाले समय में और भी सेवाएं प्रदान कराए जाएगी जिससे गरीब लोगों को पॉज आता मदद होगी आज मैंने आपको इस आर्टिकल में Ayushman Card Kaise Banta Hai इसके बारे में पूरी जानकारी दी है।

Also Read:- Kundali Kaise Banaye

अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं अभी तुरंत आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के लिए आवेदन करें और जितना जल्दी हो सके इस कार्ड को बनाकर अपने शहर के नजदीकी अस्पताल से अपने बड़े से बड़े बीमारी को जड़ से खत्म करें खुद का और अपने परिवार का ध्यान रखें।

"Hey, I’m Mangesh Kumar Bhardwaj, A Full Time Blogger , YouTuber, Affiliate Marketer and Founder of BloggingQnA.com and YouTube Channel. A guy from the crowded streets of India who loves to eat, both food and digital marketing. In the world of pop and rap, I listen to Ragni."

Leave a Comment